योगेश व्यास (धन्यवाद २०१९ | सम्मान पत्र)

योगेश व्यास (धन्यवाद २०१९ | सम्मान पत्र)

321
1
image

योगेश व्यास

कुछ रूठे, कुछ मान गए,
और कुछ को अभी मनाना है,
छोटे बड़े का भेद मिटाकर,
इक पंक्ति में सबको लाना है,
धन्यवाद 2019 ,
2020 को अभी आना है।

कुछ रिश्ते टूटे, कुछ हाथ छुटे,
और कुछ को अभी मिलाना है,
कुछ टूटी कड़िया फिर से जोड़कर,
परिवार फिर से बनाना है,
धन्यवाद 2019 ,
2020 को अभी आना है।

कुछ मंजिल हमसे छूट गई,
उस मंजिल को भी पाना है,
कुछ राहे छूट गई थी पीछे,
उन राहों पर फिर जाना है,
धन्यवाद 2019 ,
2020 को अभी आना है।

कुछ ठोकर खाकर गिर पड़े,
उस गिरे हुवे को उठाना है,
रिश्वतखोरी कालाबाज़ारी,
देश से इसको मिटाना है,
धन्यवाद 2019 ,
2020 को अभी आना है।

कुछ नाम हमने खो दिए,
कुछ नाम अब कमाना है,
हिन्दू, मुस्लिम, सिख , ईसाई
इक मंच पे सबको आना है,
धन्यवाद 2019 ,
2020 को अभी आना है।

कितनी भी हो मुश्किल राहे,
आगे कदम बढ़ाना है,
विजय पताका फहराने को,
नव पथ पर चलते जाना है,
धन्यवाद 2019 ,
2020 को अभी आना है।

कितनों ने है इज्जत खोई,
उन्हें सम्मान दिलाना है,
बहन बेटियों बहुत हो चुका,
तुमको न्याय दिलाना है,
धन्यवाद 2019 ,
2020 को अभी आना है।

देखे सपने जाग के हमने,
उन सपनों को जगाना है,
निजी स्वार्थ से उप्पर उठकर,
देश को आगे लाना है,
धन्यवाद 2019 ,
2020 को अभी आना है।

हर युवा है जाग रहा अब
नशे से मुक्ति पाना है,
शिक्षा ज्ञान को संचित करके,
देश हित मे लगाना है
धन्यवाद 2019 ,
2020 को अभी आना है।

इतिहास भी याद करेगा,
ऐसा नाम बनाना है,
मात्र भूमि में जन्म लिया जब,
उसका कर्ज चुकाना है,
धन्यवाद 2019 ,
2020 को अभी आना है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You may use these HTML tags and attributes:

<a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

×

Hello!

Click on our representatives below to chat on WhatsApp or send us an email to ubi.unitedbyink@gmail.com

× How can I help you?