योगेश व्यास (गीत) (सागर किनारे प्रतियोगिता | प्रशंसा पत्र)

योगेश व्यास (गीत) (सागर किनारे प्रतियोगिता | प्रशंसा पत्र)

294
(No Ratings Yet)
image

योगेश व्यास

सदियां गुजारी है,
यादों में तुम्हारे,
ये तेरी तड़प है,
सीने मै हमारे,
फिर लोटा हूं मिलने,
सागर के किनारे -२

वो आना वो जाना,
वो आंखे मिलाना,
वो सर रख के सोना,
खांधे पे हमारे,
फिर लोटा हुँ मिलने,
सागर के किनारे-२

वो होठों की लाली,
वो काजल करारे,
गहरी सी आंखे,
आखों के इशारे,
फिर लौटा हुँ मिलने,
सागर के किनारे-२

वो कल कल की ध्वनि
वो सुन्दर नजारे,
बैठा हूं मै अब भी,
राहों मै तुम्हारे,
फिर लोटा हूं मिलने,
सागर के किनारे-२

वही खुसबू है फैली,
गजरे की तुम्हारे,
ओंस की बूंदे,
साखों के किनारे,
फिर लोटा हूँ मिलने,
सागर के किनारे-२

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You may use these HTML tags and attributes:

<a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

×

Hello!

Click on our representatives below to chat on WhatsApp or send us an email to ubi.unitedbyink@gmail.com

× How can I help you?