प्रमोद मूँधड़ा (1) ( समय प्रतियोगिता | युगान्तकारी रचना हेतू प्रशंसा पत्र )

प्रमोद मूँधड़ा (1) ( समय प्रतियोगिता | युगान्तकारी रचना हेतू प्रशंसा पत्र )

383
(No Ratings Yet)
Time
image

प्रमोद मूँधड़ा

इस ब्रह्मांड में सब कुछ समय के घेरे में है .. सब कुछ समय के अधीन है !
सबसे महान है .. समय की सत्ता , सर्वाधिक है समय की महत्ता ~ क्योंकि
सब कुछ घटता है .. होता है .. समय में ! समय शाश्वत है ~ सदा था , सदा
है , सदा रहेगा ! मनुष्य के जीवन में भी .. समय सर्वाधिक महत्वपूर्ण तत्व है !
हम सब जानते हैं .. मानते हैं .. कि समय अच्छा हो तो जीवन के सभी कार्यों
में , गतिविधियों में परिणाम शुभ होते हैं .. अनुकूल होते हैं ~ और समय
अच्छा नहीं चल रहा हो .. तो कितना भी और कैसे भी प्रयास करें .. परिणाम
अनुकूल नहीं होते ! जीवन में जब भी कुछ अशुभ घटता है , असफलता
आती है , बीमारी आती है .. हम सब यही कहते हैं , मानते हैं .. कि अभी
समय सही नहीं चल रहा है या बुरा वक्त चल रहा है ! मंदिर , मस्जिद या अन्य
किसी भी धार्मिक स्थान में जाते हैं .. माथा टेकते हैं ~ वक्त को , समय को
बदलने के लिये अनेक तरह के क्रिया कलाप करते हैं .. पूजा हवन .. अनेकों
तरह के उपाय करते हैं ~ पर आश्चर्य .. कभी सीधे समय से प्रार्थना नहीं
करते .. कि हे समय महान .. हम पर कृपा करो ! हम सब .. जानते हैं , मानते
हैं .. कहते भी हैं .. कि ~ तुलसी नर का क्या बड़ा .. समय बड़ा बलवान ,
या .. जो समय की कदर नहीं करता .. समय भी उसकी कदर नहीं करता ,
समय आदमी को राजा से रंक और रंक से राजा बना देता है .. आदि आदि !
सभी महत्वपूर्ण या शुभ कार्य हम अच्छा समय मुहूर्त देखकर करते हैं , बच्चे
के जन्म के समय के अनुसार ही उसकी कुंडली , जन्मपत्री बनवाते हैं !
इंसान का समय सही हो , समय साथ दे .. तो भाग्य भी मुस्कुराता है , विवेक
जाग्रत रहता है .. निर्णय सही होते हैं ! आपने भी देखा होगा .. सुना होगा ~
कि आदमी का समय सही हो .. तो मिट्टी भी सोना बन जाती है .. और समय
सही ना हो तो सोना भी मिट्टी बन जाता है !

समय की महत्ता को तो सभी स्वीकार करते हैं .. कि अच्छा समय बना रहे ..
या अच्छा समय आ जाये ~ पर स्वयं ..समय को सीधे शायद ही पुकारते
हैं .. समय को शायद ही कभी प्रणाम करते हैं ! समय को सच्चे मन से ..
सच्चे संकल्प से पुकारें .. प्रणाम करें .. तो समय भी हमारे जीवन को आनंद
से आपूरित कर दे ~ ये निश्चित सम्भावना है !

आइये .. पूरे संकल्प और समर्पण भाव से .. समय महान से प्रार्थना करें ~
कि जीवन सच में .. सही अर्थों में .. आनंदित हो जाये .. !!

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You may use these HTML tags and attributes:

<a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

×

Hello!

Click on our representatives below to chat on WhatsApp or send us an email to ubi.unitedbyink@gmail.com

× How can I help you?