Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Teary Eyes

श्याम सुन्दर शर्मा (UBI भीगी पलकें प्रतियोगिता | प्रशंसा पत्र (कविता))

मेरे भीतर पनप गई इक जालिमों की बस्ती जहां ना जाने कबसे आ बसे थे कई नजर अंदाज किए जज्बात दबे कुचले छटपटाते अरमान अनकही

Read More »
Teary Eyes

रीता बधवार (UBI भीगी पलकें प्रतियोगिता | प्रशंसा पत्र (कविता))

मन की विथा(व्यथा)कह जाती भीगी पलकें, साँसों का सरगम सुनाती भीगी पलकें, विछोह का दर्द झेलतीं भीगी पलकें, बिछड़ों को मिलवाती भीगी पलकें, लाखों दर्द

Read More »
×

Hello!

Click on our representatives below to chat on WhatsApp or send us an email to ubi.unitedbyink@gmail.com

× How can I help you?